Navigation

 admin@harekrishnabooks.store  +91-94298 29020

आत्मा का प्रवास

आत्मा का प्रवास

By कृष्णकृपामूर्ति श्री श्रीमद् ए.सी. भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद
 100

भौतिकवाद के झुलसे हुए रेगिस्तान में , ' आत्मान्वेषण की यात्रा ' उच्चतर आध्यात्मिक जागरूकता के मरूद्यान का निश्चित रास्ता दिखलाता है । इन चित्ताकर्षक निबन्धों , प्रवचनों और अनौपचारिक वार्तालापों में , श्रील प्रभुपाद , जो बीसवीं शताब्दी के महानतम तत्त्वज्ञानियों में से एक हैं , प्रकट करते हैं कि , वैदिक साहित्य व उसकी मन्त्रध्यान की पद्धतियाँ हमें किस प्रकार , सभी व्यक्तिगत व सामाजिक संघर्षों को हल करके शाश्वत शान्ति व सुख की स्थिती तक आने में सहायता कर सकती हैं ।


Share:
Nameआत्मा का प्रवास
PublisherBhaktivedanta Book Trust
Publication Year1990
BindingPaperback
Pages302
Weight270 gms
ISBN9789382716396

Submit a new review

You May Also Like